1. मधुमेह - एक नजर

भारत - प्रगति की ओर , अनुमानित दर से बढ़ रही है बीमारी
शीर्ष 10 देशों में मधुमेह के साथ वयस्कों  की अनुमानित संख्या 2010 और 2030
मधुमेह के कारण स्वास्थ पर खर्चा 5 गुणा बढ़ जाता है।
अधिक पढ़ें

2. मुख्य सन्देश

भारत - प्रगति की ओर , अनुमानित दर से बढ़ रही है बीमारी
शीर्ष 10 देशों में मधुमेह के साथ वयस्कों  की अनुमानित संख्या 2010 और 2030
मधुमेह के कारण स्वास्थ पर खर्चा 5 गुणा बढ़ जाता है।
अधिक पढ़ें

3. मधुमेह - स्वास्थ्य शिक्षा

अब भारत में मधुमेह रोगियों की संख्या करीब 35 मिलियन होने जा रही है। मधुमेह की भयानकता इस तथ्य से जाहिर होती है कि ह्र्दय रोग, उच्च रक्त चाप, और स्ट्रोक का तो वह जनक है ही, अनियंत्रित अवस्था ह्र्दय, गुर्दे, आँखों और नसों की बरबादी ले आती है। तो ऐसे खतरनाक रोग के सबसे ज्यादा रोगी भारत में हैं और रहेंगे - आंकड़े यही संकेत दे रही है।
अधिक पढ़ें

4. स्वीट लाइफ

डायबिटीज के मरीजों के लिए आने वाले दिनों में कई नयी दवाइयों एवं तकनीकों का तोहफा मिलने वाला है। इन चीजों का लेखा-जोखा हर साल अमेरिकन डायबीटीज एशोशिऐशन के सम्मेलन में होता है। अधिक पढ़ें

5. मधुमेह - इतिहास
डायबिटीज शब्द इस्तेमाल पहली बार अरेटीयस ने दूसरी शताब्दी में किया। यह एक ग्रीक शब्द है जिसका मतलब साईफन होता है। अरेटीयस ने ऐसा शब्द इसलिए इस्तेमाल किया कि इस बीमारी में पानी शरीर में ठहरता नही है अधिक पढ़ें

6. मधुमेह के कारण
जो कारबोहाइड्रेट हम खाते हैं, वह ग्लुकोज बनकर रक्त में चला जाता है। यह शरीर के सेल (कोशिका) में पँहुचे इसके लिए इंन्सुलीन नामक हारमोन की जरुरत होती है। इंन्सुलीन के बिना रक्त से सेल के अन्दर ग्लुकोज जा ही अधिक पढ़ें

7. मधुमेह - मुख्य लक्षण
मधुमेह अपने पंजों को काफी फैला चुका है। भारत खास कर दिन-ब-दिन गिरफ्त में फँसता जा रहा है। भारत में आजकल 30 से 40 वर्ष के लोगों के बीच मधुमेह काफी हो रहा है। यह जरुरी है कि आप को पता हो कि मधुमेह के लक्षण क्या है अधिक पढ़ें

8. भारत और मधुमेह
70 के दशक में मधुमेह होने कि दर भारत के शहरी इलाकों में मात्र 2.1 प्रतिशत थी अब 12 से 18 प्रतिशत तक जा पहुँची है। सन् 2025 तक भारत में करीब 7 करोड़ मधुमेह के रोगी हो जाएँगे, यह संख्या अभी 3.5 करोड़ है।
नए अध्ययन के अनुसार अभी चेन्नई में करीब 13.5%, बैंगलोर में 12.5% एवं हैदराबाद में 16.6% लोग मधुमेह से पीड़ित है। धनबाद के शहरी क्षेत्रों में ड़ां एन.के.सिंह के एक अध्ययन के अनुसार 12% लोग मधुमेह से पीड़ित है, अधिक पढ़ें

9. मधुमेह और बच्चे
टाइप-1 - मुख्यतः बच्चों में पाया जाता है इस बीमारी में पैनक्रियाज ग्रन्थि के बीटा सेल्स का पूणॆतः नाश हो जाता है जिसके कारण शरीर में इन्सुलीन की पूणॆतः कमी हो जाती है। ऐसा किसी आटोइम्युनिटी या अन्य कारणों से होता है।
ऐसे मरीजों में इन्सुलीन की सुई देना ही इलाज का मुख्य पहलू है क्योंकि शरीर में इन्सुलीन का बनना सम्भव नहीं हो पाता। भारत में ऐसे मरीजों की संख्या पूरे डायबिटीज रोगियों का दो प्रतिशत होता है। अधिक पढ़ें

10 .मधुमेह और दुबलापन
हाल में सम्पन्न हुए एक डायबिटीज कैम्प में एक मरीज का ब्लड सुगर ग्लुकोमीटर हाई दिखा रहा था। यानी ग्लुकोमीटर की क्षमता के ऊपर उसका बल्डसुगर रहने से सुगर की निश्चित मात्रा अंकित नहीं हो पा रही थी।
मरीज देखने में बिल्कुल दुबला-पतला था। उसकी उम्र 35साल के करीब थी। वह होमियोपैथिक इलाज में था। उसे दिलासा दिया गया था कि वह इस इलाज से पूर्णतः ठीक हो जायेगा। अधिक पढ़ें

11. मधुमेह् बचाव
मधुमेह की मेहरबानी आज भारतीय समाज को जिस अभिशाप से कुंठित और जर्जर कर रही है, उससे निकलने के लिए समस्या की तह तक जाना होगा। मधुमेह नई बीमारी नहीं है, यह सही है। सुश्रुत संहिता में मधुमेह के दो प्रकारों
का विवरण है, एक जो अनुवांशिक कारणों से होता है तथा दूसरा जो अवैज्ञानिक खानपान और रहन सहन से होता है। हृदय आघात स्ट्रोक आदि कई खतरनाक बीमारीयों का इसे जनक माना जाता है। इस बीमारी की जकड़ आज जिस तबाही को इंगित कर रही है, अधिक पढ़ें

12. डायबिटीज प्रिबेन्शन
टाइप टू डायबिटीज के करीब 333 मिलीयन लोग पूरे विश्व में सन् 2025 तक हो जायेंगे और यह स्थिति चिकित्सा जगत के साथ साथ राजनीतिक हलको में भी चिन्ता का विषय बनी हुई है। पहले यह पता नही था कि डायबिटीज बीमारी से
बचा जा सकता है। पिछले दो या तीन सालों के अन्दर ही यह सिद्ध हुआ है कि वैज्ञानिक ढंग से यह सम्भव है। इस जानकारी को व्यक्तिगत एवं सामाजिक तौर से कैसे फैलाया जाए, यह पूर्णतः एक कला है। अधिक पढ़ें

13. मधुमेह में टहलना
मधुमेह के रोगियों के लिए व्यायाम की आवश्यकता और उपादेयता पर सही ध्यान देना, उनके स्वस्थ रहने की दिशा में सबसे अधिक महत्वपूर्ण कदम है। भारतीय मनीषियों ने इसके महत्व को समझ कर ही इसे उपचार का आवश्यक अंग माना था।
स्थूल शरीर वाले रोगियों को उन्होंने विभिन्न प्रकार के खेलकूद, लम्बी दूरी तक टहलने की बात, कुएं खोदने जैसा कोई काम करने के लिए भी प्रेरित किया था।अधिक पढ़ें

14. मधुमेह में व्यायाम
व्यायाम के पहले और बाद में किसी प्रकार के संक्रमण /घाव /फोङा आदि को जरुर देखिये बहुत ज्यादा सर्दी एंव गर्मी हो तो ज्यादा व्यायाम न करें । जरुरत से ज्यादा शारीरिक व्यायाम मधुमेह् की दवाईओं को खाने वालों एंव इन्सुलीन अधिक पढ़ें

15. इन्सुलीन - मधुमेह
अतीत की ओर नजर दौड़ाएँ। ईसा पूर्व 600 वर्ष पहले भारतीय मनीषी सुश्रुत ने मधुमेह के बारे में काफी कुछ लिखा है।पापायरस में जो कि 1500 वर्ष ईसा पूर्व का माना जाता है,मधुमेह के उपचार के कई नुस्खे बताये गये हैं। अधिक पढ़ें

16. इन्सुलीन - तकनीक
मधुमेह के रोगियों को यदि इन्सुलीन की सूई लेने की सलाह दी जाती है तो अकसर उन्हे पसीना आने लगता है मानों मुसीबतों का पहाड़ टूट पड़ा हो।मगर अब इन्सुलीन लेना इतना सरल हो गया है,मानों बच्चों का खेल अधिक पढ़ें

17. अनमोल टिप्स
डायबिटीज के मरीजों को डायट चार्ट दिया जाता है, वह व्यवहार में बहुत ज्यादा उपयोगी नहीं होता है।इन डायट चार्ट में कैलोरी का निर्धारण कर खाने वाली चीजों की निश्चित मात्रा अधिक पढ़ें

18. डायबिटीज नियंत्रण
आजकल मधुमेह में ब्लड सुगर नियंत्रण पर बहुत जोर दिया जा रह है। इसका कारण है यह जानकारी कि यदि आपका ब्लडसुगर नियंत्रण के पैमाने के आसपास है तो बीमारी के तमाम दुष्परिणामों से आप बच सकते हैं। अधिक पढ़ें

19. मरीज और सर्जरी
डायबिटीज के मरीजों में आपरेशन करने के पहले बहुत ज्यादा सतर्कता रखने की जरूरत पड़ती है। वैसे तो मुख्यतः मरीज के चिकित्सक का यह दायित्व है कि वह पूरी जांच-पड़ताल कर ले मगर तथ्यों से अवगत होना अधिक पढ़ें

20. डायबिटीज और सिगरेट
धूम्रपान वैसे तो किसी भी स्वस्थ व्यक्ति के लिए अत्यंत हानिकारक है मगर डायबिटीज के मरीजों के लिए यह आदत स्वयं को मौत के मुंह में ढकेलने सदृश्य है। समाज में कम उम्र के लोगों में धूम्रपान की आदत तेजी से बढ़ रही अधिक पढ़ें

21. मधुमेह 'खान-पान'
नई धारणा यह है कि इससे कोई अंतर नहीं पड़ता है कि आप चावल खाते हैं, गेहूँ खाते हैं, मक्का खाते हैं, जौ या रागी खाते हैं। एक पूरी जमात हैं दुनिया मैं जो मधुमेह में चावल या आलू मना कर देते हैं। यह मगर बेकार कि बातें है। अधिक पढ़ें

22. भोजन और डायबिटीज
अमेरिकन डायबेटीक एसोसियेशन के अनुसार मेथी का प्रयोग सुरक्षित है। मेथी में पचास प्रतिशत फाइबर हैं साथ में एन-3 फैट भी है। इसके प्रयोग से ब्लड सुगर में कमी होती है। कोलेस्टेरोल एवं ट्राइग्यसेराइड भी कमता है। अधिक पढ़ें

23. विश्व मधुमेह दिवस
विश्व मधुमेह दिवस हर साल 14 नवंबर को मनाया जाता है। इसी दिन बेटिंग का जन्मदिन भी है जिन्होंने इंसुलीन की खोज की थी। फैंडरिक बेटिंग के योगदान को याद रखने के लिए इंटरनेशनल डायबेटिक फेडरेशन द्वारा अधिक पढ़ें

24. मधुमेह में एसपीरीन
डायबिटीज के मरीजों में हृदयघात होने की संभावना 2 से 4 गुणा ज्यादा होती है। शरीर में रक्त में प्लेटलेट्स होते हैं जो खून की नली में विभिन्न कारणों से जम सकते हैं। इनसे कई तरह के जैव रसायन भी स्रावित होते हैं। अधिक पढ़ें

25. आइजलेट सेल्स प्रत्यारोपण
भारत में करीब 2% मधुमेह टाइप-1 प्रकार का होता है। इसमें ऑटोइम्यूनिटी के कारण आइजलेट सेल्स पूर्णतः नष्ट हो जाते हैं। आइजलेट सेल्स पैनक्रीयाज ग्रन्थि में पाये जाते हैं और इन्हीं के द्वारा इन्सुलीन शरीर में स्त्रावित अधिक पढ़ें

26. स्लो फूड
जमाना फास्ट है। इसलिये हमारा फूड भी फास्ट हो गया है। स्मार्ट लोग फास्ट फूड की दुकनों पर उमङे हुए हैं।फास्ट गप्पें,फास्ट स्टाइल,फास्ट आशिकी और फास्ट मौसम। नूडल्स,बर्गर,पिज्जा, ब्रेड-बटर,पेप्सी कोला नये जमाने के नये अधिक पढ़ें

27. मधुमेह में योग
योग के कुछ आसनों एवं प्राणायाम को रोज करना जहाँ स्वस्थ रहने कि कुँजी है, वहीं मेडिकल साइन्स ने भी इनके अभूतपूर्व लाभ कि पुष्टि करा दी है। वैज्ञानिक तौर पर किये गये शोधों ने बताया है कि कुछ खास आसनों के अधिक पढ़ें

28. मधुमेह में जाँच
यह एक गाइडलाईन है जो अमेरिकन डायबिटीज एशोसिएशन के मानकों पर आधारित है। व्यवहार में इन सभी जाँचों को शायद ही कोई मरीज कराता है। महीने में एक बार ब्लड सुगर, तीन महीने में एक बार ग्लायकोसालेटेड अधिक पढ़ें

29. नियंत्रण हँसते-खेलते
दनिया के कई देशों के लोग पुडिंग से लेकर अन्य खाद्य आइटमों में फलैक्स सीड का खुब इस्तेमाल कर रहे हैं। इसमें अत्यंत गुणकारी एन-3 फैट (वसा) की अधिकायत है। एन-3 फैट का लगातार सेवन डायबिटीज, हृदयघात एवं स्ट्रोक अधिक पढ़ें

30. देशी दवाएँ
आजकल कई टी.वी. चैनलों पर मधुमेह की देशी दवाओं के विज्ञापन लम्बे समय तक दिखाये जा रहे हैं। आस्था एवं संस्कार चैनलों पर ऐसे विज्ञापन खास तौर पर देखे जा सकते है। इन विज्ञापनों के अनुसार मधुमेह पर नियंत्रण करना अधिक पढ़ें

31. क्या करती हैं दवाइयाँ
इस महत्वपूर्ण दवा का असर मुख्यतः पैनक्रियाज के बाहर होता है और यह ग्लुकोज को कोशिकाओं में घुसाने में सक्षम है। इस ग्रुप की फेनफारमिन दवा (Phenformin) जैसे डी.बी.आई. अब बैन हो चुकी है, मेटफारमिन ही अभी अधिक पढ़ें

32. हाइपोग्लायसिमिया
'हाइपोग्लाययसिमिया' एक ऐसा शब्द है जिसे हर डायबिटीज के मरीज को जानना अतिआवश्यक है। हाइपो का मतलब है 'कम' एवं ग्लाययसिमिया का मतलब है 'सुगर की मात्रा'। हाइपोग्लाययसिमिया इस तरह से रक्त में अधिक पढ़ें

33. सावधानी हटी दुर्धटना घटी
1.हाइपोग्लायसिमिया पर पूरी जानकारी पिछले पन्ने पर दी गयी है। 2.आप को यह तभी होगा जब शरीर में दवा या इनसुलीन की मात्रा ज्यादा हो जाएगी। अधिक पढ़ें

34. इंसुलीन कितना जरुरी
इंसुलीन के इंजेक्शन का डर काफी व्यापक है। नई शोधों के अनुसार टाईप-2 मधुमेह के रोगियों को जल्दी इंसुलीन शुरु करनी चाहीए। इससे इंसुलीन को स्त्रावित करने वाले पैनक्रियाज के बिटासेल्स को नवजीवन मिलता है, अधिक पढ़ें

35. प्री-डायबिटीज
जे.एन.सी. यानी ज्वाइंट नेशनल कमिटी पूरी दुनिया की सबसे प्रमाणिक संस्था है, जो 'रक्तचाप' पर निर्देश देती है। अभी जे.एन.सी.-7 के रिपोर्ट नवीनतम है। यह सन् 2003 में बना। इसके पहले जे.एन.सी.-6 को माना जा अधिक पढ़ें

36. वेस्ट-हीप रेशियो
बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) के वजन और ऊंचाई के बीच एक रिश्ता है, जो शरीर में वसा और स्वास्थ्य जोखिम के साथ जुड़ा हुआ है. अनुसंधान के आधार पर पता लगा कि स्वास्थ्य जोखिमों की एक श्रृंखला है. अधिक पढ़ें

37. इन्सुलीन अवश्य जानिये
जहां इन्सुलीन दे सकते हैं - पेट में लेने से (चमड़े के नीचे) इन्सुलीन जल्दी शरीर में चला जाता है, उसके बाद बांहो और फिर जांघों एवं कुल्हे के पास इसका शरीर में घुलने का क्रम हैं। इसलिए एक ही एरिया में इन्सुलीन लें, तुरत तुरत एरिया अधिक पढ़ें

38. इन्सुलीन पंप
इन्सुलीन पंप अब भारत में भी उपल्बध हो गया है। यह इन्सुलीन लेने की दिशा में एक उल्लेखनीय उपलब्धि समझी जा रही है। इस विधि से इन्सुलीन लेने से मधुमेह का नियंत्रण ज्यादा प्राकॄतिक तौर पर होता है। इसलिए मधुमेह के अधिक पढ़ें

39. ग्लारजीन इन्सुलीन
इन्सुलीन 'ग्लारजीन' एक नये किस्म का इन्सुलीन है। अप्रैल 2000 में पहली बार अमेरिका में एफ.डी.ए. ने इसे 'टाइप-1' एवं 'टाइप-2' डायबिटीज के मरीजों में प्रयोग के लिए सुरक्षित करार दिया। अभी तक बजार में कोई ऐसा इन्सुलीन अधिक पढ़ें

40. हीमोग्लोबीन टेस्ट
अभी तक ग्लायकोसाइलेटेड हीमोग्लोबीन टेस्ट केवल नियन्त्रण के लिए ए.डी.ए द्वारा सिफारिश में था। 2009 में ए.डी.ए. द्वारा यह निदान के लिए भी करने को कहा गया है।इस तरह एस टेस्ट का महत्व अब काफी बढ गय अधिक पढ़ें

41. कुछ तथ्य
1. ग्लायकोसालेटेड हीमोग्लोबीन टेस्ट - सबसे महत्वपूर्ण टेस्ट बन कर उभरा है। यह डायबिटीज की डायगनोसिस एवं कंट्रोल को जानने का सबसे अच्छा तरीका है। इसकी रिडिंग यानि 7 प्रतिशत कम है तो डायबिटीज का नियंत्रण ठीक चल रहा है। अधिक पढ़ें

42. मधुमेह में नसें
मधुमेह बीमारी में नसों की खराबी अक्सर हो जाती है। इसे डायबेटिक न्यूरोपैथी कहते हैं। मधुमेह के रोगियों की बीमारी जितनी पुरानी होती है न्यूरोपैथी होने की संभावना उतनी ही बढ जाती है। अधिक पढ़ें

43. नपुंसकता
यह जानना जरुरी है कि ऐसे मरीजों को निराश होने की जरुरत नहीं है। आजकल बहुत से जाँचो की सुविधा बड़े शहरों में हो गयी है। सही कारण का जायजा लेकर उचित ईलाज संभव है।
साथ में इस तथ्य को न भुलें की यदि आप मधुमेह नियंत्रण सही ढग से करते अधिक पढ़ें

44. नयी दवा
सन् 1997 के बाद, अब पहली बार डायबिटीज की एक नयी दवा सिटाग्लीपटीन (जुनिवया-100) उपलब्ध हो गयी है। कहा जा रहा है कि यह पहली दवा है जो निरापद ढंग एवं प्राकृतिक तौर पर कार्य करती है।
1997 में ग्लीटाजोन्स ग्रुप की दवा बाजार अधिक पढ़ें

45. बड़ी आशा
नवीनतम शोधों से पता चलता है कि मधुमेह के कारण होने वाले गुर्दें की खराबी को काफी हद तक टाला जा सकता है। इसके लिए आपको इन उपायों को अमल करना होगा : अधिक पढ़ें

46. माइक्रोअल्बुमिनुरिया
-यदि आपको माइक्रोअल्बुमिनुरिया की अवस्था शुरु हो गयी है तो तुरंत सावधानी की जरुरत है। इस समय से भी यदि इन उपायों का आप अनुसरण करें तो किडनी फेल्यर से बचने की अधिक पढ़ें

47. मधुमेह में किडनी
गुर्दे शरीर के महत्वपूर्ण अंग हैं। शरीर में उत्पन्न खराब तत्वों को गुर्दे ही निकालते हैं। गुर्दे की खराबी यानी किडनी फेलयोर अत्यंत खतरनाक अवस्था है। मधुमेह के दुष्परिणाम के अधिक पढ़ें

48. दिल बेचैन है
दिल में दर्द का उठना अच्छी बात है। इससे आसपास के लोगों को मालुम होता है कि फ्लां को दिल में दर्द उठ रहा है। मेडिकल कालेज में फाइनल वर्ष में मेरे एक दोस्त को दिल में दर्द था। अधिक पढ़ें

49. मधुमेह में हॄदय
यह जानना आवश्यक है कि मधुमेह के रोगीयों में हॄदय रोग होने की सम्भावना बढ़ जाती है। साधारण जनो में हॄदयाघात या इसचिमिक हॄदय रोग की सम्भावना 2 से 4% होती है जबकि मधुमेह के रोगियो अधिक पढ़ें

50. दिल हाकिम दरबार
आजकल जब अपना लिपिड प्रोफाइल कराते हैं तो कोलेस्टेरोल, ट्राइग्लासेराइड के अलावा हाइडेनसिटी लाइप्रोटीन (एच.डी.एल. कोलेस्टेराल) एवं लो डेनसिटी लाइप्रोटीन (एल.डी.एल. कोलेस्टेराल) की जाँच बहुत जरुरी मानी अधिक पढ़ें

51. पैरों पर विशेष
मधुमेह के रोगियों को पैरों में घाव होने और गैंगरीन ( पाँव का सड़ जाना) होने का काफी खतरा रहता है। अक्सर तब उनके पैरों या उंगलियों को काटना पड़ता है। इसके कारण खर्च काफी बढ़ जाता है। अधिक पढ़ें

52. मधुमेह में आँखे
यह जानना आवश्यक है कि मधुमेह के रोगियों में अन्धापन का मुख्य कारण है - आँखो पर मधुमेह जनित दुष्प्रभाव जिसे 'डायबेटीक रेटनोपैथी' कहते हैं। अगर किसी को टाइप-टू मधुमेह की बिमारी है अधिक पढ़ें

53. ब्रेन अटैक(स्ट्रोक)
आये दिन यह् मह्सूस किया जा ऱहा है कि स्ट्रोक के मऱीजो की संख्या मे हुई बढोतऱी से समाज में अशक्तता, लाचारी और अपंगता की भयावह विभीषिका पैदा हो गयी है। उच्च रक्तचाप और मधुमेह् के मऱीजो की वॄद्धि से स्ट्रोक होने का रिस्क अधिक पढ़ें

54. उच्च रक्तचाप
इस रक्तचाप को उस समय राष्ट्रपति के स्वास्थ्य के लिए उत्तम माना गया। समझा गया कि ज्यादा प्रेशर रहने से ब्रेन में ज्यादा खून पहुँचेगा और वे स्वस्थ रहेंगे। मगर 13 अप्रैल 1945 के 'द न्यूआर्क टाइम्स' का हेडलाइन देखिए अधिक पढ़ें

55. गलत धारणाएँ
यह गलत धारणा है। चिकित्सा के दौरान कभी-कभी खाने वाली दवाईयाँ कार्य नहीं करती हैं और ब्लड सुगर बढ़ा रहता है। अधिकाशं दवाईयाँ पैनक्रियाज के बीटा सेल्स को इन्सुलीन स्त्रावित अधिक पढ़ें

56. मानसिक तनाव
मानसिक तनाव हॄदय आघात के लिए आजकल सबसे महत्वपूर्ण रिस्क फैक्टर जाना जा रहा है। उच्च रक्त चाप, मधुमेह, धुम्र्पान, अलकोहल आदि से भी खतरनाक है - तनाव ग्रसित जीवन प्रणाली। यह तथ्य आधुनिक खोजों से अधिक पढ़ें

57. गर्भावस्था
गर्भावस्था के दौरान मधुमेह की अवस्था को नियंत्रित करना अत्यंत आवश्यक है। अच्छा तो यह होता है कि जो दंपति बच्चे की इच्छा कर रहे हों शुरुवाती दौर में ही अपना ब्लड सुगर जाँच करा लें। अधिक पढ़ें

58. बच्चे ध्यान दें
बहुत लोगों कि यह् धारणा है कि डायबिटीज से बचाव 40 साल के बाद करना होता है। मगर आधुनिक खोजों से पता चला है कि इस बीमारी से बचाना है तो स्कूल के दिनों से ही बचाव शुरु हो अधिक पढ़ें

59. रमजान में सावधानी
ब्रिटिश जरनल ऑफ डायबिटीज डिजिज में एक लेख रमजान के समय के किए जाने वाले उपवास पर प्रकाशित हुआ है। इसमें इस बात की विवेचना की गई है कि डायबिटीज से पीड़ित मुस्लिम अधिक पढ़ें

60. रिर्वसल चिकित्सा
कहा जाता है कि आदमी का कोई सुहाना भ्रम टुट जाए तो यह मरण तुल्य पीड़ा देता है।मेडीसीन जगत की सबसे ग्लैमरस विधा कारडियोलॉजी में एक भ्रम अब शीघ्र टूटने जा रहा है। अधिक पढ़ें

61. अवश्य पूछें
मधुमेह का मेरे आँखो और गुर्दें पर क्या असर होता है? मुझे अपना ब्लड-सुगर कब-कब जाँच कराना चाहिए? माइक्रोअलबुमिनुरिया क्या है? इसे किस टेस्ट से पता किया जा सकता है? अधिक पढ़ें